UP bhulekh kaise dekhe : यूपी भूलेख खसरा-खतौनी ऑनलाइन चेक करे।

दोस्तों अगर आप उत्तर प्रदेश में रहते है और वहां पर आपकी जमीन है या किसी जानकार की जमीन है और आप उस जमीन की जानकारी लेना चाहते है और साथ साथ उस जमीन का भूलेख नक्शा देखना चाहते है तोह इस ब्लॉग की मदद से हम आपको इस कार्य करने के लिए मदद करेंगे।

UP bhulekh kaise dekhe

UP bhulekh kaise dekhe : भूलेख जैसा कि नाम से पता चलता है भूमि का लेखा जोखा, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित एक ऑनलाइन पोर्टल(UP bhulekh Portal ) है, जिसकी सहायता से आप यूपी भूलेख / खसरा खतौनी / भूलेख नक्शा की जांच कर सकते हैं। (http://upbhulekh.gov.in/) यह ऑनलाइन पोर्टल आपके जमीन का रिकॉर्ड दिखता है जमीन पर किसका नाम है वह भी दर्शाता है। इस ब्लॉग के जरिये हम आपको यह बताने की कोशिश करेंगे की UP bhulekh Portal क्या है ? का उद्देश्य ,up bhulekh naksha क्या है ? UP bhulekh kaise dekhe ?

ब्लॉग :यूपी भूलेख (UP bhulekh kaise dekhe)
किसके लिए :उत्तर प्रदेश के निवासी के लिए
किस प्रकार :ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट :http://upbhulekh.gov.in/
शुरुआत :2016

UP bhulekh : यूपी भूलेख क्या है ?

यूपी भूलेख एक ऑनलाइन पोर्टल है जो उत्तर प्रदेश के राजस्व बोर्ड द्वारा शुरू किया गया ऑनलाइन सुवधा वाला पोर्टल है जिसका निर्माण राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, उत्तर प्रदेश राज्य इकाई, लखनऊ द्वारा किया गया है, जिसकी मदद से आप घर बैठे-बैठे अपने उत्तर प्रदेश में अपनी जमीन की स्तिथि और भूलेख नक्शा देख सकते है।

यह पोर्टल को डिजिटल इंडिया योजना के तहत लागू किया गया था और इसे (यूपी भुलेख) उत्तर प्रदेश में 2016 में लागू किया गया था जिसके तहत उत्तर प्रदेश की सभी तहसीलों की भूमि जानकारी इस पोर्टल के द्वारा प्राप्त की जा सकती है।

UP bhulekh Portal का उद्देश्य

यूपी पोर्टल का मुख्य उद्देश्य यह है कि लोगों को घर बैठे अपनी जमीन की जानकारी मिलेगी और उन्हें जानकारी लेने के लिए तहसील कार्यालयों में नहीं जाना पड़ेगा और ऑनलाइन होने से रिश्वतखोरी की कमी होगी और काम में पारदर्शिता आएगी।

डाटा कम्प्यूटरीकृत होने से आप इसे कहीं से भी देख सकेंगे, कागज पर निर्भरता दूर होगी और डिजिटल इंडिया को भी बढ़ावा मिलेगा और इससे लोगों में जागरूकता बढ़ेगी।

UP bhulekh Portal द्वारा क्या क्या सुविधा मिलेगी

आप इस पोर्टल द्वारा निम्नलिखित सुविधा प्राप्त कर सकते है।

  • यूपी भूलेख नक्शा (up bhulekh naksha)
  • खसरा-खतौनी यूपी (Khasra-Khatauni UP)
  • मालिक का नाम
  • भूमि या भूखंड के एक टुकड़े के मालिकों की संख्या
  • भूमि के एक टुकड़े पर कोई विवाद
  • भूमि के मालिकाना हक़ का ब्यौरा जैसे समय, छेत्रफल, विवरण आदि।

UP bhulekh देखने के लिए आवयशक

यूपी भूलेख को देखे के लिए आपको ज्यादा जानकरी की जरुरत नहीं है बस आपको आपका जनपद , तहसील और ग्राम का नाम मालूम होना चाहिए।

UP bhulekh kaise dekhe : यूपी भूलेख देखे

Step#1. सबसे पहले आप उप भूलेख के ऑनलाइन पोर्टल (https://upbhulekh.gov.in/)पर जाए।

Step#2.अब आपको निचे दी गयी इमेज की तरह खतौनी (अधिकार अभिलेख) की नक़ल देखे पर क्लिक करना है

UP bhulekh Portal
UP bhulekh kaise dekhe

Step#3.जिसके बाद आपको कॅप्टचा कोड भरना है और सबमिट पर क्लिक करना है।

UP bhulekh Portal

Step#4.अब निचे दिया गया पेज ओपन होगा जिसमे आपको अपना जनपद , तहसील और ग्राम चुनना है।

UP bhulekh Portal

Step#5.अब आपको एक और पेज ओपन होगा जिसमे आप दिए विक्लप खसरा नंबर / खता संख्या नंबर / खातेदार का नाम या नामांतरण की दिनाक से किसी एक को चुन कर भरना है।

UP bhulekh Portal

Step#6 .अब आपको एक और कॅप्टचा कोड भरना है और सबमिट पर क्लिक करना है।

UP bhulekh Portal

Step#7.जिसके बाद आपके सामने आपके द्वारा खोजी गयी जमीन की खतौनी (अधिकार अभिलेख) की नक़ल खुल जाएगी।

यह भी देखे :

FAQ UP bhulekh kaise dekhe

1.यूपी भूलेख क्या है ?

up bhulekh kya hai : उत्तर प्रदेश सरकार के राजस्व बोर्ड द्वारा संचालित एक ऑनलाइन पोर्टल है जिसमे उत्तर प्रदेश के नागरिक अपनी जमीन का रिकॉर्ड देख सकते है।

2.यूपी भूलेख ऑनलाइन पोर्टल की शुरुआत कब हुई ?

भूलेख यूपी ऑनलाइन पोर्टल को 2 मई 2016 शुरू किया गया।

3.यूपी भूलेख खतौनी की जांच करने के लिए मुझे क्या करना होगा?

आपको upbhulekh.gov.in/ ऑनलाइन पोर्टल पर जाना होगा खतौनी की नक़ल देखे पर क्लिक करना होगा। अपना जनपद चुनना होगा। तहसील फिर ग्राम क्षेत्र चुनकर आप अपना रिकॉर्ड चेक कर सकते है।

आशा करता हूँ की आपको ये ब्लॉग (UP bhulekh kaise dekhe) पसंद आया होगा अगर इस ब्लॉग से आपको मदद मिली हो तो कमेंट कर के अवश्य बताएं धन्यवाद आपका दिन शुभ हो। हमारा ट्विटर हैंडल है esarkariyojna

1 thought on “UP bhulekh kaise dekhe : यूपी भूलेख खसरा-खतौनी ऑनलाइन चेक करे।”

Leave a Comment

%d bloggers like this: